Category Archives: City

मुजफ्फरपुर से निर्मात्री पल्लवी प्रकाश की ‘मोहब्बत के सौगात ‘ की शूटिंग हुई पूरी

मुजफ्फरपुर (06/10/2016) : भोजपुरी सिने जगत में ताज़ी हवा का झोका लेकर आ रही है फ़िल्म 'मोहब्बत के सौगात'।"पल्लवी प्रकाश इंटरनेशनल बैनर के तले बन रही यह फ़िल्म सामाजिक मूल्यों,आधुनिकता एवं मनोरंजन का बेहतरीन समामेलन है। इस फ़िल्म के जरिये दर्शको को एक बार फिर अपनी भाषा एवं अपनी संस्कृति पर गर्व करने का मौका मिलेगा। गत वर्षो में कई ऐसी भोजपुरी फिल्में आई जिसमे फूहड़ता एवं नारी को वस्तु मात्र किरदार बनाकर पेश किया गया। इससे एक बड़े वर्ग के लोगो का रुझान भोजपुरी फिल्मो से विमुख हो गया। इन सब धारणाओं को तोड़ती हुई,पल्लवी प्रकाश जो इस फ़िल्म की निर्मात्री है,'मोहब्बत के सौगात' को लेकर आ रही है। इस फ़िल्म से सारे वर्ग के लोगो का रुझान फिर से भोजपुरी फिल्मो के प्रति उमड़ेगा और वो फक्र से इसे सपरिवार अपने नजदीक थिएटर में देखने उमड़ेंगे। फ़िल्म "मोहब्बत के सौगात' की शूटिंग हाल ही में राजस्थान के अलवर ,दिल्ली एवं बिहार में पूरी कर ली गई...
Read more

मोटिवेशनल गुरु,लेखिका,और अब फ़िल्म निर्मात्री बनी पल्लवी प्रकाश

कैनेडा से कंप्यूटर इंजिनीरिंग की पढाई पूरी के बाद,बड़े बड़े मल्टीनेशनल कपनियो के साथ काम को छोड़ 2007 में समाज सेवा और लोगो को अच्छी शिछा , समाज सेवा के कार्य के उद्देश्य से फ़िल्म निर्मात्री में भी अपना कदम रखा.
बहुमुखी प्रतिभा की धनी फिल्म और टेलीविजन धारावाहिक निर्मात्री, लेखिका, और प्रख्यात मोटिवेशनल गुरु पल्लवी प्रकाश आज के युग में कामयाबी की एक जीती जागती मिसाल हैं । देश के विभिन्न क्षेत्र में कामयाब महिलाओ की श्रेणी में पल्लवी प्रकाश तेजी से अपना वर्चस्व स्थापित करते जा रही हैं । पल्लवी की अब तक तीन किताबें और समामयिकी से जुड़ी लगभग एक हजार से ज्यादा आर्टिकल्स विभिन्न हिंदी और अंग्रेजी अखबारों में प्रकाशित हो चुके हैं । उनकी बहुचर्चित पुष्तक डायनामिक्स ऑफ़ सक्सेस की अपार सफ़लता ने पल्लवी को मोटिवेशनल गुरु बना दिया । लेखक के साथ वर्कशॉप सेमिनार,से वो 5000 से भी ज्यादा प्रोफेशनल एवम् युवा छात्रो को प्रभावित कर चुकी है । पल्लवी के पति प्रेम...
Read more

“महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय में जल्द शुरु होंगे एडमिशन, बिहार के छात्रों को नहीं जाना होगा दिल्ली” – प्रो. अरविंद अग्रवाल

महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय, मोतिहारी, बिहार के पहले कुलपति प्रो. अरविंद अग्रवाल से खास बातचीत इंटर टॉपर घोटाले को लेकर चर्चित बिहार की शिक्षा व्यवस्था के अंधकारमय परिदृश्य में रोशनी की तरह आई है एक नई खबर। पूर्वी चंपारण जिला मुख्यालय मोतिहारी में खुले महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय में एडमिशन की प्रक्रिया आनेवाले चंद दिनों में शुरु हो जाएगी और सबसे खास बात ये है कि इस विश्वविद्यालय में एमए, एमएससी, एमफिल-पीएचडी के बजाय बीए, बीएससी, बीकॉम जैसे कोर्स पहले शुरु किये जा सकते हैं। इस विश्वविद्यालय के रूप में बिहार को मिलने जा रहा है शिक्षा का एक और बड़ा केंद्र जो इंटरमीडिएट के बाद आगे का रास्ता तलाशनेवाले बहुत से छात्रों को शानदार करियर की राह दिखाएगा। इसकी शुरुआत महात्मा गांधी की भारत में पहली कर्मभूमि और अंग्रेज साहित्यकार जॉर्ज ऑरवेल की जन्मभूमि, पूर्वी चंपारण जिले के मुख्यालय, मोतिहारी में हो रही है। भारत में महात्मा गांधी के पहले सत्याग्रह- चंपारण सत्याग्रह के सौ साल पूरे होने...
Read more